मीन

मीन

अब से मंगल राशि बदलकर आपकी राशि से छठे स्थान में परिभ्रमण करेगा। मंगल आपके लिए हर प्रकार से मंगलकारी रहेगा। यह आपको हर काम में विजय प्राप्त कराएगा और सफलता प्राप्त होगी। तंदुरूस्ती बरकरार रहेगी। रोग से परेशान हैं तो उसमें सुधार आएगा। कोर्ट-कचहरी के भी कामों में विजय होगी। विदेश गमन का योग बन रहा है। जमीन से लाभ होगा। इस स्थान में ही सूर्य की युति होने से नौकरी पेशा लोगों को वरिष्ठ अधिकारियों की तरफ से लाभ मिलेगा। हालांकि, आपको उनके साथ संबंधों में विनम्रता बनाए रखनी पड़ेगी। आप पूरे जोश और उत्साह से आगे बढ़ेंगे। विद्यार्थियों में इस समय अवरोध और बैचेनी बढ़ने की आशंका है। सृजनात्मक विषयों में अध्ययन करने वाले जातकों के लिए समय सबसे अधिक संभालने का है। प्रेम संबंधों में विशेष रूप से आपको किसी पर अति विश्वास करके संबंधों में आगे नहीं बढ़ने की सलाह है। किसी की धोखेबाजी के चलते आपके विश्वास को ठेस लग सकती है। उत्तरार्ध के समय में सूर्य के आपके सप्तम भाव में आने से विशेष रूप से दांपत्य जीवन में अहं का टकराव हो सकता है। भागीदारी के कार्यों में भी संभलना पड़ेगा। इस समय गुरू का राशि परिवर्तन होकर आपकी राशि से आठवें स्थान में भ्रमण चालू रहेगा, जो आपके लिए शुभ नहीं है। नौकरी-धंधे में तकलीफ उत्पन्न होंगी। शारीरिक कष्ट बढ़ेगा। गुरू की दूसरे भाव पर दृष्टि आपको गूढ विद्या में रुचि जगाएगी। आपकी वाणी में शिष्टता अधिक होगी। महीने के अंतिम दिनों में विपरीत लिंग वाले व्यक्ति के प्रति आकर्षण घटेगा। अंतरंग संबंधों में भी नीरसता आने की आशंका है।